घोंघा के बारे में जानकारी [वैज्ञानिक नाम, मारने की दवा, Lifespan] | Snail Ghongha Animal Hindi

1566

Snail Ghongha Animal Hindi वैज्ञानिक नाम, मारने की दवा, Lifespan, घोंघा के बारे में जानकारी वर्गीकरण घोघा पाइला स्नैल प्रकार, kaisa hota hai Ghogha kya khati details insect mein information scientific name घर में रखने पर क्या होता है vargikaran phylum

कई क्षेत्रों में घोंघा की परेशानी काफी ज्यादा देखी जाती है जिससे फसलों को काफी ज्यादा नुकसान होता है घोघा ज्यादातर पेड़ों पर, खाली जमीन, पानी और घास के मैदान में सबसे ज्यादा देखने को मिलता है।

Snail फाइलम मोलस्का के अंतर्गत आने वाले प्राणी है जिसका शरीर मुलायम होता है और इसके शरीर के ऊपर में एक shell लगी होती है।

और घोंघे के मुंह में जीभ के अलावा बहुत सारे छोटे छोटे दांत होते हैं इसी कारण यह फसलों को नष्ट कर देते हैं।

Ghongha एक शाकाहारी जीव होने के कारण फलों और सब्जियों को भी काफी ज्यादा नुकसान पहुंचाते हैं और Ghogha का जीवनकाल भी काफी लंबा 5 से 10 वर्ष की होती है।

तो आइए अब हम घोंघा के बारे में डिटेल में जानने का प्रयास करते हैं कि यह क्या होता है और इसे कैसे कंट्रोल किया जा सकता है।

घोंघा क्या है (Ghongha Kya Hai)

घोघा फाइलम मोलस्का के अंतर्गत पाए जाने वाले शाकाहारी जीव है जिसका शरीर मुलायम होता है जो स्थलीय और जलीय प्राणी है।

इसके ऊपरी भाग में shell ढका होता है जिससे इसकी रक्षा होती है घोंघे का जीवनका लगभग 5 से 10 वर्ष का होता है लेकिन कई वैज्ञानिक इसका जीवनका 20 से 25 वर्ष भी बताते हैं।

Ghongha पेड़ों पर, खाली जमीन, पानी और घास के मैदान में देखने को मिलता है और यह फसलों और सब्जियों को धीरे-धीरे खाकर नष्ट कर देता है इसलिए इसको फसलों में आने से रोकना जरूरी है नहीं तो धीरे-धीरे या फसल को ले डूबती है।

घोघा का वैज्ञानिक नाम क्या है (snail scientific name, phylum)

घोंघा का वैज्ञानिक नाम (ghogha ka vaigyanik naam) – हेलिक्सपोमेटिया

घोंघा एक पूरी तरह से शाकाहारी जीव होती है और अपने से छोटे जानवर को खा कर अपना जीवन यापन करती है .

इसकी फाइलम (Phylum) की बात करें तो यह फाइलम मोलस्का के अंतर्गत आते हैं क्योंकि जितने भी कोमल शरीर वाले जीव होते हैं वह phylum molaska के अंतर्गत आता है.

घोघा का वर्गीकरण (ghongha ka vargikaran, Animal)

घोंघा को दो भागों में वर्गीकृत किया गया है जलीय और स्थलीय जलीय Ghogha की प्रजाति समानत: पानी में देखने को मिलता है और पानी में पाए जाने वाले स्नैल सांस लेने के लिए बाहर आते हैं।

और कई घोंघे में पानी के अंदर भी सांस लेने की क्षमता होती है दूसरा स्थलीय घोंघा स्थलों में देखने को मिलता है जैसे खाली जमीन घास के मैदान पेड़ आदि में।

गूंगे का हार

घोघा का शरीर काफी मुलायम होता है इसी कारण कई क्षेत्रों में इसको भोजन के रूप में भी उपयोग किया जाता है और कहा जाता है कि घोघा में काफी ज्यादा प्रोटीन की मात्रा और जिंक की मात्रा पाई जाती है ।

और यह उन पुरुषों और महिलाओं के लिए खाना काफी ज्यादा फायदेमंद होता है जिनकी फर्टिलिटी कमजोर होती है क्योंकि घोंघा खाने से महिला और पुरुषों में फर्टिलिटी की बढ़ोतरी होती है।

घोंघा मारने की दवा (snail ko marne ki dawa)

Ghongha को हम जैविक विधि या जुगाड़ द्वारा या फिर रासायनिक विधि द्वारा नियंत्रित कर सकते हैं  इसको कुछ सामान्य विधि द्वारा भी नियंत्रित किया जा सकता है।

सामान्य जुगाड़ द्वारा

सबसे अच्छा और असरदार तरीका है कि अगर आपके घर में घोंघा का प्रकोप देखने को मिल रहा है तो इसको एक बाल्टी में हाथों से बीनकर इकट्ठा कर ले।

और कोई दूसरे स्थान में फेंक दें क्योंकि इसको पकड़ने से यह अपने शरीर को अंदर कर लेता है जिससे कोई नुकसान और काटने का खतरा नहीं होता।

Ghogha को नियंत्रित करने का और सबसे असरदार तरीका है कॉफी का उपयोग क्योंकि काफी में कैफीन पाई जाती है और कैफीन द्वारा भी घोंघे को नियंत्रित किया जा सकता है तो आप कॉफी काफी बनाकर इसको ठंडा करके Ghongha पर छिड़काव कर सकते हैं।

snails को नियंत्रित करने का और सबसे असरदार तरीका है कि फालतू मुर्गियों को उस क्षेत्र में विचरण करने भेज दे जहां पर घोघा रहते हैं जिससे मुर्गी धीरे-धीरे करके घोंघा को खा जाएगी।

रासायनिक विधि द्वारा नियंत्रण (Snails Chemical Control)

घोघा कोमल शरीर वाला जीव है और यहां फाइलम मोलस्का संघ में पाए जाते हैं तो ऐसे में अगर इसको नियंत्रित करना है तो हमको Metaldehyde 2.5% Pellet का उपयोग करना चाहिए जो बाजार में अलग-अलग कंपनी द्वारा बनाई जाती है.

जिसमें पीआई इंडस्ट्रीज द्वारा इस जहर को Snailkill के नाम से बनाया जाता है जो बाजार में 1 किलो के पैक में उपलब्ध होता है तो इसका आप छिड़काव कर सकते हैं जिससे आप Ghongha को आसानी से नियंत्रित कर सकते हैं।

इसके अलावा घोंघे को नियंत्रित करने के लिए आप कीटनाशक में Ferric Sodium EDTA का इस्तेमाल कर सकते हैं इसके इस्तेमाल से भी घोंघा को नियंत्रित किया जा सकता है।

घोंघा को घर में रखने पर क्या होता है

वैसे तो Ghongha को घर में रखने से कुछ नहीं होता लेकिन पुरानी बातों से चली आ रही है कि स्नैल एक शाकाहारी जीव है जो फफूँदो को खाकर जीवन यापन करता है।

तो ऐसे में अगर आपके घर में भी snails animal होगा तो आपके घर में फफूंद की समस्या आने वाली है तो ऐसे में घोंघा को घर से तुरंत हटा देना चाहिए यह सिर्फ पुराने लोगों का कहना है इस बात की सही होने की कोई गारंटी नहीं है।

शंख के अंदर कौन सा जानवर होता है

घोघा एक मोलस्का प्राणी का जीव है जिसके शरीर के ऊपरी भाग में खोल या Shell लगी होती है जो कठोर और मजबूत होती है जो देखने मे शंख जैसा दिखाई देता है तो लोग इसको शंख भी कह देते हैं तो शंख के अंदर मोलस्का संघ के जीव रहते हैं।

घोंघा के बारे में कुछ रोचक तथ्य (Ghongha Interesting Facts)

घोंघे के बारे में रोचक बात यह है कि यह धीमी गति से चलने वाले जिवों में से एक है जो धीरे धीरे खोल या shell से बाहर आती है और चलने लगती है और जैसे ही कोई डर का आभास होता है अपने शरीर को खोल में अंदर कर लेती है।

snails की और रोचक बात यह है कि यह रात में सक्रिय अवस्था में पाए जाते हैं और दिन में यह आराम करता है और सूर्य की किरण पढ़ने पर अपना शरीर shell के अंदर ही रखता है।

इनकी भोजन की बात करें तो यह शुद्ध शाकाहारी जीव है जो मिट्टी, पत्ते और फूल को खाते हैं।

घोंघा एक छोटे जीव के रूप में पाया जाता है इसी कारण बड़े सांप, पक्षी, मेंढक, छिपकली और चूहा इनका आसानी से शिकार कर लेते हैं।

घोंघा के बारे में और रोचक बात यह है कि इसके शरीर में पाए जाने वाले सेल काफी ज्यादा कठोर होते हैं जो इसके पूरे शरीर की रक्षा करती है तो ऐसे में इसके खोल में अगर दरारे आ जाती है तब तो यह जीवित रहता है लेकिन अगर इसके shell टूट जाते हैं तो यह जीवित नहीं रह पाता।

घोघा की और रोचक बात यह है कि यह बिना भोजन के भी 1 सप्ताह तक जीवित रह सकता है।

Snail animal की और रोचक बात यह है कि इसके मुंह में जीभ के अलावा बहुत सारे छोटे छोटे दांत भी पाए जाते हैं इसी वजह से यह फसल को नष्ट कर देते हैं।

तो साथियों यह रही घोंघा के बारे में पूरी जानकारी तो आपको जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट में बताने का प्रयास करें और अगर जानकारी में कोई भी त्रुटि है तो हमें इन्फॉर्म करें क्योंकि आगे चलकर हम इसको अपडेट कर सकें।

आपका प्रेम पूर्वक धन्यवाद,

FAQ

Q. घोघा का वैज्ञानिक नाम क्या है?

Ans. घोंघे का वैज्ञानिक नाम हेलिक्सपोमेटिया है।

Q. घोंघा को अंग्रेजी में क्या बोले हैं?

Ans. घोंघा को अंग्रेजी में Snail कहते है।

Q. घोंघा कहाँ रहता है?

Ans. घोघा ज्यादातर पानी मे, पेड़ों पर, घास के मैदानों पर और खाली जमीन में रहता है।

Q. घोंघा क्या खाता है?

Ans. घोंघा एक शाकाहारी जीव है यह मिट्टी, पौधों के पत्ते, फल आदि खाते हैं।

Other Post:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here