सबसे ज्यादा दूध देने वाली भैंस की नस्ल, Murrah, Nili Ravi | Jyada Dudh Dene Wali Bhains Buffalo

578

Jyada Dudh Dene Wali Bhains Buffalo Murrah Nili Ravi सबसे ज्यादा दूध देने वाली भैंस की नस्ल कौन सी है, famous jafarabadi buffalo in india best murra nasl ki, milk production per day

भारत में सबसे ज्यादा दूध देने वाली भैंस की नस्लों का क्रेज हमेशा से रहा है और लोग sabse jyada dudh dene wali nasal की चर्चा हमेशा करते हैं।

और हमको भारत में बहुत सारे ऐसे नस्लें देखने को मिलता है जिसकी दूध देने की क्षमता देसी नस्ल की भैंस से काफी ज्यादा होती है।

और ऐसे nasl की भैंस जो किसान लंबे समय से पालते आ रहे हैं उसका हर एरिया में स्टेट लेवल और इंडिया लेवल का पशु मेला आयोजित होता है।

जिसमें सबसे ज्यादा दूध देने वाली भैंस को चैंपियन बनाया जाता है और अगर कोई भैंस बड़े मेला में चैंपियन बन जाती है तो कई बार उसकी कीमत 50 लाख 60 लाख तक जाती है ।

और कई बार तो मेले में चैंपियन बनने के बाद भैंस को कई लोग तुरंत खरीद लेते हैं लेकिन मेले में चैंपियन बनाने के लिए किसानों को अपनी bhains को तैयार करने के लिए सालों साल मेहनत भी करनी पड़ती है तभी कोई भैंस चैंपियन बनता है।

भारत में सबसे ज्यादा दूध देने वाली भैंस

मुर्रा नस्ल की भैंस (Murrah nasal buffalo)

मुर्रा नस्ल की भैंस भारत की सबसे प्रचलित और लोकप्रिय नस्ल है जो सामान्यत: हरियाणा और दिल्ली के आसपास के क्षेत्रों में देखने को मिलता है।

यह अन्य देसी bhains के मुकाबले अधिक dudh देती है और यह लगभग एक बार बच्चा देने के बाद 300 दिन तक लगातार दूध देती है ।
और मुर्रा भैंस की पहचान की सबसे अच्छी विधि इसकी मुड़ी हुई लंबी सिंग होती है जो सबसे ज्यादा गहरे काले रंग की होती है जिसे हम आसानी से पहचान सकते हैं।

नीली रावी (nili ravi bhains Breed)

भारत का पंजाब राज्य पहले से ही किसानों का राज्य रहा है और यहां एक से बढ़कर एक पशुपालक भी है जो पशुपालन से करोड़ों का व्यापार करते हैं।

इसी में से यहां की sabse jyada dudh dene wali nasal है नीली रावी है जो पंजाब की सबसे लोकप्रिय और प्रचलित नस्ल में से एक है ।

जो एक बार बच्चा देने के बाद लगातार 300 दिन तक दूध देती रहती है जिसको वहां के किसान काफी ज्यादादा पसंद करते हैं क्योंकि यह दूसरे नस्लों के अपेक्षा काफी ज्यादा dudh देती है।

नील रावी की पहचान उसके सिर बड़े होते हैं और इसके सिंग थोड़े मुड़े हुए भी होते हैं, nili-ravi bhains के माथे पर सफेद दाग, उसी के साथ यह गहरे काले रंग का नस्ल है।

जिसको हम आसानी से पहचान सकते हैं और इसका सबसे अच्छा पहचानने का तरीका इसके माथे पर सफेद दाग है जिसको देखकर हम nili-ravi भैंस को pahchan सकते हैं।

जफराबादी नस्ल की भैंस (jafarabadi buffalo in india)

जाफराबादी नस्ल की भैंस सबसे ज्यादा भारत के गुजरात राज्य में देखने को मिलता है और यह भी भारत की प्रचलितnasl में से एक है जो सबसे ज्यादा दूध देने वाली buffalo में से एक है।

जो एक बार बच्चा देने के बाद लगातार 290 दिन तक दूध देती रहती है और jafarabadi buffalo की पहचान का सबसे अच्छा तरीका इसकी लंबी गर्दन है ।

उसी के साथ इसका सिर बड़ा और भारी होता है और इसकी लंबाई सामान्य भैंस की अपेक्षा थोड़ी छोटी होती है मतलब मध्यम कद वाली यहnasal है। jafarabadi buffalo प्रति दिन (milk per day) 30 लीटर तक दूध दे सकती है।

इसके अलावा भारत में और भी बहुत सारी भैंस की नस्ल है जो काफी ज्यादा दूध देती है लेकिन हमने यहाँ जो चर्चा किए हैं यह भारत की सबसे लोकप्रिय और प्रचलित नस्लों में से एक है।

जिसको लगभग हर किसान जानता है और बड़े-बड़े पशु मेले में इन्हीं नस्लों को सबसे ज्यादा देखा जाता है और चैंपियन भी इन्हीं नस्लों में से सबसे ज्यादा बनता है।  

FAQ

Q. ज्यादा दूध देने वाली भैंस की पहचान कैसे करें?

Ans. वैसे तो ज्यादा दूध देने वाली भैंस की पहचान नहीं किया जा सकता लेकिन इसके नस्ल की पहचान जरूर की जा सकती है।

Q. कौन सी नस्ल की भैंस अच्छी होती है?

Ans. मुर्रा नस्ल की भैंस विश्व की सबसे प्रचलित और लोकप्रिय नस्लों में से एक है जो भैंस की सबसे अच्छी नस्ल होती है।कौन सी नस्ल की भैंस अच्छी होती है?

इन्हें भी पढ़ें:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here